E-com Website for Jewellers, a Must for continuous Customer Engagement

People who think having a E-commerce website or store will increase online sales for jewellers immediately is half truth. Your Service, Convenience and creation of Brand Value digitally will result in Online Sales.

You remember it well how much time, efforts, hard work and money went into setting up your physical store and to reach where you stand today.  E-commerce Store also will take time to generate real business  but with much less time because now customers knows about your presence, goodwill and service. To generate traction and business surely you’ll have to put lots of efforts to understand &  build the culture and mindset of serving customers digitally in your organisation.

Why E-Commerce Store?

E-Commerce Store is a marketing & Customer Engagement tool which is open 24x7x365 and provides customers with convenience of going through your product line virtually. By sharing product link thru Whatsapp or social media  now you can connect with Existing & Potential customer not just in your surrounding but across the city, state & nations of your presence.  It is a medium to manage marketing & Sales tools from a single dashboard, so you can be omnipresent (Online & Offline) for your customers.

Can we compete with Big Brands Digitally?

For Small & Medium Jewellers to be relevant,  don’t have to compete with big brands. Big Chain Stores  have to spend big amount on Advertisement  as their customer’s loyalty to brand is dependent on them being present and visible everywhere. Small to Medium Jewellers, already have direct connect with customers to build that trust and loyalty. You only have to add Convenience and Service to their experience to stay ahead of big brands. Setting up E-commerce Ready store & other tools will help you take that advantage.

So what is the hurdle?

The only hurdle for Small and Medium Jewellers MINDSET. The investment in technology is cost for many. The day they start seeing Return on Investment, they’ll realise their potential of becoming big. Even though the investment is far less than they think Yet jewellers are averse to getting into anything which is out of their comfort zone,  but they will have to soon realise Change is inevitable, like it or not. Adapt or ready to be perished.

Going Digital will increase Sales?

No. Going digital will help you increase Sales. Confused? Jewellers need to go digital to provide convenience and services their customers are demanding. Being present digitally will bring unparalleled convenience to your customers. If you think your customers are not digital friendly,  you are misleading  yourself. Every customer, whether old or young, high income or low, labour or professional everyone is using smartphones. There are 122 Crore smartphones in India, so you can realise that its not about selling jewellery online but engaging your customers online wherever they are. Eventually it will results in sales either online or offline.

We are Small Jewellers, How do we empower ourselves?

Technology provides equality. What big brands can do, You can do too, only if you are willing to take that leap for you jewellery Business and create your presence online.
Select a proficient technology partner who understands Jewellery Business and Technology both very well. He will empower you in right sense so you can focus on business growth. A competent partner will design the solution for you in such a way that you can create, manage and connect your website, Facebook, google, Instagram, Pinterest, LinkedIn, twitter, Emails, SMS, WhatsApp, Calls, Video Chats, Payments, Augmented Reality, Analytics and much more from a single dashboard. Focused efforts coupled with right technology support will result in acquiring new customer & generate Sales and gives you power to fulfil customer’s requirements any time.

Jewellers will have to remember, Big Brands are engaging customers by building brand, experience, convenience & personalisation to gain loyalty. This is the best time to regain and reinvent yourself for the next decade to face any evolution the market will face due to rapid changes in consumer behaviour and psychology.

Have more queries and doubts on your journey to go Digital? Reach out to us on mail@tanika.tech or 9920282002 / 9833566117

Author:

Karan Jagani is Director at Tanika Tech Jewels Pvt Ltd, Mumbai creating technology solutions to empower & enable jewellers towards Jewelry 4.0.

अनिवार्य परिवर्तन: ज्वैलर्स को कोविड युग को अपनाकर आगे बढ़ना होगा ।

(कई हिंदी भाषी ज्वैलर्स की माँग पर इसे हिंदी में अनुवाद कर फिर से प्रेषित कर रहे हैं।)

आभूषण उद्योग पिछले कई वर्षों से चुनौतियों का सामना कर रहा है जैसे एक्साइज टैक्स, डिमोनेटाइजेशन, जीएसटी, सोने के दामों में वृद्धि, बढ़ती प्रतिस्पर्धा आदि । इन चुनौतियों से उबरने के लिए, ज्वैलर्स ने केवल डिस्काउंट्स, सेल, अधिक वॉल्यूम पर ध्यान केंद्रित किया है, जिसके कारण अनावश्यक प्रतिस्पर्धा और पतले मार्जिन को बढ़ावा मिला है, जिसने व्यवसायों को अस्थिर और अलाभकारी बना दिया है। COVID लॉकडाउन ज्वैलर्स को 2 साल पीछे ले जाएगा, लेकिन इसने हमें अगले 10 वर्षों के लिए तैयार होने का का समय भी दिया है। हमें अपने व्यवसायों को संचालित करने में बड़े बदलाव की आवश्यकता होगी।

आधुनिक तकनीकों को अपनाना

टेक्नोलॉजीको अपनाना अब कोई विकल्प नहीं है, हर जौहरी को व्यापार में बने रहने के लिए और आगे बढ़ने के लिए नए प्रयोगों और तकनीक को अपनाना होगा, क्योंकि आज सभी स्तर के ग्राहक मोबाइल और तकनीक के जानकार हैं । इसी कारण कई उद्योग उन्हें अपने अनूठे प्रस्ताव के साथ अपनी ओर आकर्षित कर रहे हैं और खींच रहे हैं , जिससे जो पैसा आभूषणों को खरीदने या निवेश करने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता था वह अब वहां पर खर्च किया जा रहा है।

आधुनिक कंप्यूटर तकनीक का उपयोग केवल अकाउंट के रख रखाव, ईआरपी, ग्राहक सेवा आदि जैसी व्यावसायिक प्रक्रियाओं के प्रबंधन तक सीमित नहीं है, लेकिन आज, यह आपको बुद्धिमान डेटा प्रदान करता है जैसे कि आपके कौन से ग्राहक किस डिजाइन में रुचि रखते हैं, उनका बजट क्या है, कब वे कुछ खरीदने की सोच रहे हैं, कब उनके पास खरीदने के लिए पैसा होता है । आज कई प्रकार के उपकरण और संसाधन हैं जो कंपनियों को उन ग्राहकों को खोजने में मदद करता है जो खरीदना चाहते हैं या खरीद सकते हैं। बड़ी रकम खर्च किए बिना ऑटोमेशन और तकनीक का इस्तेमाल ज्वैलर्स को बड़े ब्रांडों के साथ प्रतिस्पर्धा करने में, व्यापार में मजबूती के साथ टिके रहने और उसे बढ़ाने में सक्षम बनाएगी।

ग्राहको का वर्गीकरण एवं उन्हें जोड़े रखना

टेक्नोलॉजी की तरह, 90% से अधिक भारतीय ज्वैलर्स अपने ग्राहक के वर्गीकरण या सेगमेंटेशन और एंगेजमेंट स्ट्रैटेजी के साथ तैयार नहीं हैं। ज्यादातर ज्वैलर्स बिक्री बढ़ाने के लिए केवल ब्याह- शादी के ग्राहकों और डिस्काउंट्स पर ध्यान केंद्रित करते हैं। ग्राहको का वर्गीकरण सबसे महत्वपूर्ण पहलुओं में से एक है जो आपको उन ग्राहकों की पहचान करने में मदद करता है जिन पर आपको ध्यान केंद्रित करना है और उनके साथ जुड़ना है। अगर ज्वैलर्स केवल शादियों पर ध्यान केंद्रित करना है, तो साथ ही उन्हें दूल्हा-दुल्हन, उनके माता-पिता, भाई-बहनों, रिश्तेदारों और दोस्तों पर ध्यान भी केंद्रित करना होगा। ये सभी लोग उस शादी में शामिल होते हैं। क्या आप उन पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं? इसी तरह आपको ग्राहकों के अवसर, प्रसंग, आयु, के हिसाब से उपहार और आभूषण खरीदने के मौको को भुनाने की कोशिश करनी चाहिए । अलग-अलग तरीकों से ग्राहकों को जोड़कर अपनी बिक्री बढ़ाने के तरीकों को बढ़ाना चाहिए।

कंटेंट मार्केटिंग

आभूषण व्यापार का हिस्सा सिकुड़ रहा है, इसका एक कारण यह है कि यह कोनटेन्ट मार्केटिंग (सामग्री विपणन) पर ध्यान केंद्रित नहीं करता है। ज्वैलर्स के लिए सबसे बड़ा प्रतिस्पर्धी यात्रा, फैशन और वित्त उद्योग है। दुनिया में सबसे भरोसेमंद संपत्ति और उच्चतम निवेश पर प्रतिफल देने के बावजूद, हमारा उद्योग यात्रा पैकेज, महंगे गैजेट्स, म्यूचुअल फंड में निवेश करने वालों को सोने एवं आभूषण में निवेश करवाने में विफल हो रहा है। प्रत्येक जौहरी को अपने ग्राहक के वर्गीकरण और उनको जोड़ने की रणनीतियों के आधार पर विषय वस्तु या कंटेंट बनाने पर ध्यान केंद्रित करना होगा यदि वे अपने ब्रांड के प्रति ग्राहक वफादारी का निर्माण करना चाहते हैं।

डिजाइनिंग और निजीकरण

हर कोई इस बात से सहमत है कि ग्राहक हमारे से बारंबार खरीदी करें और हम उसे अपना ग्राहक बनाए रखें जिसके लिए प्रोडक्ट की डिजाइन सबसे महत्वपूर्ण है। लेकिन आज का ग्राहक इंटरनेट, टीवी और सोशल मीडिया के अत्यधिक संपर्क के कारण ज्वेलरी डिजाइन के मामले में विकसित होने से उन्हें हमारे साथ बनाए रखना चुनौतीपूर्ण हो गया है। अतः इससे निपटने के लिए ज्वेलर्स को तकनीक की मदद लेकर डिजाइनिंग को उनके व्यक्तित्व से जोड़ना होगा और व्यक्तिगत अनुभव करवाना होगा। आज के ग्राहक चाहते हैं कि जो आभूषण वो पहने उसमें उनका व्यक्तित्व झलके और कोई कहानी बयां करें ।

कर्मचारीयों को डिजिटल राजदूत बनाना

किसी भी व्यापार में बिना कर्मचारी के हम उसकी कल्पना नहीं कर सकते। कर्मचारी हमारे व्यापार में रीढ की तरह होते हैं लेकिन हम उन्हें सशक्त नहीं बनाते हैं। ज्वैलर्स को अपने कर्मचारियों को प्रशिक्षित करना होगा जिससे वो ग्राहकों को व्हाट्सएप, इंस्टाग्राम, फेसबुक, टेलीग्राम, लिंक्डइन, ट्विटर, लाइव वीडियो आदि पर डिजिटल रूप से संलग्न करें। ऑनलाइन ब्राउज़िंग में वृद्धि के साथ, हमारे अधिकांश ग्राहक मोबाइल पर हर रोज 5-8 घंटे खर्च करते हैं। आपके कर्मचारी इन समय के दौरान उन्हें अपने प्रोडक्ट और सेवाओं के बारे में बता सकते है, जोड़ सकते और उनका विश्वास जीत सकते हैं ।

स्मार्ट स्टॉक प्रबंधन

ज्वेलरी व्यापार करने के मायने और पैमाने बदल रहे हैं, ग्राहकों की पसंद और वरीयता बदल रही है अतः ज्वेलर्स को अब पहले की तरह अपने इन्वेंटरी को और बढ़ाना आसान नहीं होगा। इसलिए सभी को अपने ग्राहकों के आंकड़ों एवं बिक्री के पूर्वानुमानो के अनुसार योजनाएं बनानी होंगी । कितना स्टॉक तैयार रूप में रखना है और कितना माल अपने सप्लायर के पास से ऑन अप्रूवल पर मंगवा कर दिखाना है उन सब की भी योजना बनानी होगी।

तकनीक का उपयोग आपको अपने ग्राहकों को विविधता प्रदान करने, डेटा विश्लेषण और पूर्वानुमान की मदद से उनकी आवश्यकताओं को विभाजित करने में सक्षम कर सकता है।

कई ज्वैलर्स अकसर सोचते हैं कि क्या ज्वेलरी की ऑनलाइन बिक्री संभव है? यह तभी संभव है जब आप संगठित रूप से अपने प्रोडक्ट और सेवा में गुणवत्ता, सेवा, विश्वास और सुविधा का निर्माण करते हैं।

ग्राहकों को नियमित रूप से जोड़े रखने के लिए सभी टेक्नोलॉजी उपकरणों का उपयोग करना होगा, जो आपको कहीं भी, किसी को भी सेवा देने में सशक्त करता हो।

https://tanika.tech के साथ अपने ज्वेलरी व्यवसाय को भविष्य के लिए मात्र 10 मिनट में तैयार कर सकते हैं।

संपादकीय : करण जगानी, 2016 से मुंबई मे तनिका टेक ज्वैल्स प्राइवेट लिमिटेड में निर्देशक हैं , और आभूषण उद्योग 4.0 (उद्योग में व्यवधान के अगले चरण) को सशक्त और सक्षम बनाने के लिए 2016 से टेक्नोलॉजी उत्पादों का निर्माण कर रहे हैं।

Inevitable Changes: Jewellers will have to embrace Post COVID era

The Jewellery Industry has been facing challenges for the past several years due to Sales Tax issue, Demonetisation, GST, Price Increase and evolving Market & Customer Practices. To overcome these challenges, jewellers have only focused on Discounts, Sale, Volumes which led to Unhealthy Competition and thin margins which has made businesses unviable and unsustainable operationally. The COVID lockdown will take jewellers 2 years behind but this has given the time to prepare ourselves for next 10 years which will require huge changes in the way we operate our businesses.

Technology Adoption

The adoption of technology is not a choice anymore, to survive & thrive every jeweller will have to take this giant leap as customers at all levels are mobile savvy and several industries are engaging & pulling them with their unique offerings which takes away their liquidity which they could have used for buying or investing in jewellery. Technology is not just used for managing business processes like accounting, ERP, CRM etc. But today, it provides you with intelligent data like which of your customers is interested in which designs, what is their budget, when they are thinking of buying anything, when they have liquidity to buy and many tools which helps companies to automatically find customers who want to or can buy. Automation & Technology will enable jewellers to compete with big brands without spending a huge amount. 

Customer Segmentation & Engagement

Like Technology, More than 90% of Indian Jewellers are not ready with their Customer Segmentation & Engagement Strategy. Mostly Jewellers are only focused on Wedding Customers & Discounts, Sales for their overall business promotions. Segmentation is the one of the most important aspects which helps you to identify customers you have to focus on and how to engage with them. If Jewellers have to focus only on weddings they have to disintegrate that by focusing on Bride, Groom, Parents, Siblings, Relatives & Friends. All these people attend a wedding, are you focusing on them? Similarly, you can plan occasion-wise, age-wise, gifting and other jewellery buying options for customers and plan how to engage them and boost your sales.

Content 

One of the reasons why jewellery industry is shrinking, as it doesn’t focus on content marketing. The biggest competitors for jewellers is travel, fashion and finance industry. Inspite of having most dependable asset in the world and product with the highest ROI, Our industry is failing to convince customers to invest in jewellery then a bag, travel package or mutual funds. Every jeweller will have to focus on content on basis of its customer segmentation and engagement strategies if they want to build customer loyalty towards their brand.

Designing & Personalisation

Everyone agrees that design is the most important factor for repeat purchases and customer retention. But it becomes more crucial with evolving customers due to exposure of designs they get through the internet, TV, newspapers and much from social media. With designing jewellers will have to focus on personalisation too with the help of technology, to decide which customers would like what type of designs. Today’s customers want the jewellery piece to symbolise a story and make a statement of their personality.

Making Employee’s Digital Ambassadors

Employee’s are our backbone to succeed, but we don’t make them empowered. Jewellers will have to train their employees how to engage customers digitally on WhatsApp, Instagram, Facebook, telegram, LinkedIn, twitter, Live Videos etc. With the increase in online browsing, most of our customers spend 5-8 hours everyday on mobile. Are you engaging them during these times? Your savvy employees can make you win customers in their homes and offices.

Smart Inventory Management

Jewellers can’t keep on inventory as it used to due to changing customer preferences and operational challenges. So everyone will have to plan as per their customers data and forecast on inventories to keep ready, In-design, To ask for approval from suppliers and To personalise as per customers requirements. Use of technology can enable you to diversify your customers and segment their requirements with the help of Data Analysis and Forecast.

Many Jewellers often think whether online sales is possible? It’s possible only if you build Quality, Service,Trust & Convenience as your Integral Offering. You will have to use all technology tools to engage customers regularly, which will enable them to sell anyone, anywhere.

 Make Your Jewellery Business Future Ready in 10 Minutes with www.tanika.tech

Editorial by:

Karan Jagani is Director at Tanika Tech Jewels Pvt Ltd, Mumbai Researching and building technology products since 2016 to empower & enable jewellery industry towards Jewelry 4.0 – Next Stage of Disruption in the Industry.